विश्वकर्मा समाज को जनसंख्या के हिसाब से मिले भागीदारी - विष्णु शर्मा 

विश्वकर्मा समाज को जनसंख्या के हिसाब से मिले भागीदारी - विष्णु शर्मा 

विश्वकर्मा समाज को जनसंख्या के हिसाब से मिले भागीदारी - विष्णु शर्मा 

विश्वकर्मा समाज को जनसंख्या के हिसाब से मिले भागीदारी - विष्णु शर्मा 

वाराणसी(एपीआई एजेंसी): - वाराणसी के खिडकिया घाट पर पंचमुखी भगवान विश्वकर्मा मंदिर न्यास परिषद द्वारा आयोजित विश्वकर्मा अवतरण दिवस समारोह का आयोजन हुआ ,समारोह मे विश्वकर्मा समाज के शिक्षाविद बुध्दिजीवी वर्गो के साथ साथ विभिन्न राजनीतिक दल से सम्बद्ध प्रतिनिधी एवं शिल्प कला से जुड़े कारीगर, बढई व व्यवसाई उपस्थित हुए।

समारोह मे पूर्व महानगर अध्यक्ष विष्णु शर्मा ने कहा कि उ.प्र. मे विश्वकर्मा समाज को उनकी जनसंख्या के अनुसार सरकारी नौकरियां व विधानसभा एवं लोकसभा में भागीदारी मिलनी चाहिए यह समाज अब उपेक्षा एवं अपमान बर्दाश्त नहीं करेगा कार्यक्रम को संबोधित करते हुए विष्णु शर्मा ने कहा कि पूरे देश में विश्वकर्मा समाज की जनसंख्या साढ़े सात करोड़ है | आज तक यह समाज लोहार, बढ़ई, सोनार, शिल्पकार आदि में बंटे होने के कारण अपनी पहचान नहीं बना पाया है कहा कि देश के लोकसभा एवं विधानसभा में विश्वकर्मा समाज का एक भी सांसद व विधायक नहीं है जबकि यह समाज चुनाव में अहम भूमिका निभाता है इन समाज को जनसंख्या के अनुसार अधिकार व सम्मान सभी राजनीतिक दलों को देना होगा |

कहा कि केंद्र सरकार पिछड़ी जाति व विश्वकर्मा समाज की जनगणना कराकर उनके अधिकार में भागीदारी का कार्य करें उन्होने कहा कि लड़की व फर्निचर के व्यवसाय पर लागू जीएसटी को समाप्त करने,आरा मशीन का लाइसेंस सिर्फ विश्वकर्मा समाज को रोजगार के लिए देने, पुश्तैनी रूप से कुशल कारीगर के नवयुवकों को आईटीआई का प्रमाण पत्र जारी करने, कौशल विकास मिशन योजना में रोजगार आरक्षित करने सहित अन्य मांगों को लेकर अब समाज अपने अधिकार के लिए लड़ाई लड़ेगा।

खिडकिया घाट मे पंचमुखी विश्वकर्मा मंदिर के जीर्णोद्धार के लिए सपा प्रमुख अखिलेश यादव से समाज के लोग मुलाकात कर विश्वकर्मा भगवान की प्रतिमा स्थापित करने एवं जीर्णोद्धार के लिए मांगपत्र देगे। कार्यक्रम मे मुख्य रूप से अध्यक्ष नंद लाल दास, हंसराज विश्वकर्मा ( एमएलसी ), रामचंद्र शर्मा, सोनू विश्वकर्मा, भरत विश्वकर्मा, रामअधार विश्वकर्मा ( मास्टर),राधेश्याम विश्वकर्मा, धनश्याम विश्वकर्मा,राजेश विश्वकर्मा, राजकुमार विश्वकर्मा,डा० सुनिल विश्वकर्मा, संजू विश्वकर्मा,राजेन्द्र विश्वकर्मा, रामजी विश्वकर्मा, अरविंद विश्वकर्मा,श्याम बाबू विश्वकर्मा,कैलाश विश्वकर्मा आदि लोग उपस्थित थे।